भारत बायोटेक COVID-19 के लिए इंट्रानैजल वैक्सीन विकसित करेगा

भारत बायोटेक ने विस्कॉन्सिन और मैडिसन विश्वविद्यालय के वायरोलॉजिस्ट्स के साथ मिलकर COVID-19 के लिए कोरोफ्लू नामक एक नए टीके का विकास और परीक्षण शुरू कर दिया है।

मुख्य बिंदु

इस टीके विकास एम2एसआर वैक्सीन के साथ विकसित किया जायेगा। एम2एसआर वैक्सीन का इस्तेमाल फ्लू के खिलाफ किया जाता है। एम2एसआर इन्फ्लूएंजा वायरस का एक आत्म-सीमित संस्करण है। यह फ्लू के खिलाफ प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को प्रेरित करता है।

यह टीका कोरोना वायरस के खिलाफ प्रतिरक्षा को प्रेरित करेगा। इस प्रक्रिया में तीन से छह महीने लगने की उम्मीद है। भारत बायोटेक इस वैक्सीन की लगभग 300 मिलियन खुराक का निर्माण करेगी। इस खुराक को दुनिया भर में वितरित किया जायेगा।

भारत बायोटेक

भारत बायोटेक एक भारतीय जैव प्रौद्योगिकी कंपनी है। इसका मुख्यालय हैदराबाद में है। इसकी स्थापना एक भारतीय वैज्ञानिक कृष्णा एला ने की थी। यह कोरियाई खाद्य व औषधि प्रशासन द्वारा अंकेक्षित और अनुमोदित पहली जैव-फार्मा कंपनी है।


आर्टिकल पसंद आया तो शेयर करें
एंड कमेंट करें