कोनेरू हम्पी ने जीता 2019 वर्ल्ड रैपिड चेस का खिताब

भारतीय ग्रैंड मास्टर कोनेरू हम्पी ने 2019 महिला वर्ल्ड रैपिड चेस चैंपियन का खिताब अपने नाम किया। कोनेरू हम्पी ने रूस के मास्को में खेले गये फाइनल में चीन की ली तिंगजिए को पराजित किया। गौरतलब है कि कोनेरु हम्पी दो वर्ष के अवकाश के बाद वापसी कर रही हैं। पुरुष वर्ग में यह खिताब नॉर्वे के मैग्नस कार्लसन ने जीता।

वर्ल्ड रैपिड चेस चैंपियनशिप

इस शतरंज प्रतियोगिता का आयोजन 1987 से किया जा रहा है, यह प्रतियोगिता समय सीमा के भीतर खेली जाती है। 2012 से पहले FIDE (अंतर्राष्ट्रीय शतरंज प्रतियोगिताएं की गवर्निंग बॉडी) ने इस प्रकार की प्रतियोगिताएं को सीमित मान्यता दी। 2012 के बाद FIDE वार्षिक रूप से Word Rapid & Blitz Chess Championships का आयोजन कर रहा है, महिलाओं के लिए Women’s Word Rapid & Blitz Chess Championship. का आयोजन किया जाता है।

हम्पी कोनेरु

हम्पी कोनेरु एक भारतीय, शतरंज की ग्रैंडमास्टर खिलाडी है। इनका जनवरी 2010 में फाईड स्तर 2614 था, जिससे वह संसार की दुसरे स्थान की (जुड़ीट पोल्गर के बाद) महिला शतरंज खिलाडी बन गई। 2007 में इन्होने सुशान पोल्गर द्वारा स्थापित 2577 के स्तर को पार किया और विश्व में दुसरे स्थान की सबसे बड़ी खिलाडी होने का गौरव प्राप्त किया।

2007 में इन्हें पद्मश्री से सम्मानित किया गया।


आर्टिकल पसंद आया तो शेयर करें
एंड कमेंट करें