UNIT-9 बुद्धि (भाग- 1)

बुद्धि का अर्थ एवं परिभाषाएं- बुद्धि का अर्थ स्पष्ट करने के लिए वर्णन और फ्री में द्वारा वर्गीकरण किए गए हैं-
1. वरनन का वर्गीकरण- वर्णन बुद्धि को स्पष्ट करने के लिए तीन उपागम में विभाजित किया है-
(अ)जैविक उपागम- इस उपागम के अनुसार जीवन की नई परिस्थितियों के साथ अनुकरण करने की क्षमता की बुद्धि है।
(ब) मनोवैज्ञानिक उपागम-इस उपागम के आधार पर वंशानुक्रम और पर्यावरण से बुद्धि का निर्धारण होता है हैव और कैटल ने इस बुद्धि को बुद्धि-अ एवं बुद्धि-ब के रूप में वर्गीकृत किया है।
बुद्धि-अः जन्मजात बुद्धि
बुद्धि-बः   अनुभव,अधिगम और पर्यावरणीय कारकों का परिणाम
(स) संक्रियात्मक उपागम- बुद्धि ज्ञान को अर्जित करने और प्रयोग करने की क्षमता है।

2. फ्रीमेन का वर्गीकरण- फ्रीमेन ने बुद्धि का वर्गीकरण तीन आधारों पर किया है-
(अ) समायोजन अथवा अनुकूलन  योग्यता
(ब) अधिगम की योग्यता
(स) अमूर्त चिंतन की योग्यता

बुद्धि की परिभाषाएं-
1. समायोजन की योग्यता के आधार पर बुद्धि की परिभाषाएं
स्टर्न- 
बुद्धि जीवन की नवीन समस्याओं के अनुकूलन की सामान्य योग्यता है।
क्रूज-  बुद्धि नवीन और भिन्न परिस्थितियों से भलीभांति समायोजन करने की योग्यता है।
कालविन- एक व्यक्ति उसी अनुपात में बुद्धि रखता है जिस अनुपात में 1 नए वातावरण में समायोजित होने की क्रिया सीख  सकता है।

2. अधिगम की योग्यता के आधार पर बुद्धि की परिभाषाएं
बंकिघम-सीखने की योग्यता बुद्धि है।
वुडरो– बुद्धि ज्ञान अर्जन करने की क्षमता है।
डियरबोर्न– बुद्धि सीखने या अनुभव का लाभ उठाने की योग्यता है।

3. अमूर्त चिंतन की क्षमता के आधार पर बुद्धि की परिभाषाएं
टर्मन- एक व्यक्तिउसी अनुपात में बुद्धिमान होता है जिसमें वह अमूर्त चिंतन की क्षमता रखता है।
स्पीयरमैन- बुद्धि संबंधात्मक चिंतन है।
बिने- समझ, आविष्कार, निदेशक, और आलोचना बुद्धि इन चार शब्दों में समाहित है।

4.समस्या समाधान की क्षमता के आधार पर बुद्धि की परिभाषाएं
बर्ट-बुद्धि भली-भांति निर्णय करने समझने तथा तर्क करने की योग्यता है।
रायबर्न- व्यक्ति है जो हमें समस्याओं के समाधान करने तथा अपने उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए क्षमता प्रदान करती है।

 बुद्धि की विशेषताएं-

  1. बुद्धि अनुभव के आधार पर सीखने की एक मानसिक योग्यता है
  2.  बुद्धि समस्याओं के समाधान खोजने में सहायक होती है
  3.  बुद्धि पर्यावरण के साथ संबंधित से स्थापित करने की मानसिक योग्यता है
  4.  बुद्धि अमूर्त चिंतन की योग्यता है
  5.  बुद्धि अधिगम एवं अर्जित ज्ञान का उपयोग अन्य  परिस्थितियों में करने की योग्यता है

 गैरेट के अनुसार बुद्धि के प्रकार-
1.अमूर्त बुद्धि- वह मानसिक योग्यता जो विचारों प्रतिकों, संपत्तियों और अमूर्त कल्पनाओं में प्रयुक्त की जाती है अमूर्त बुद्धि कहलाती है।
2. मूर्त बुद्धि-  मूर्त बुद्धि में स्थूल अथवा दृष्टिगत वस्तुओं को समझने की योग्यता है।
3. सामाजिक बुद्धि-  समाज के साथ समायोजन में इस बुद्धि का प्रयोग किया जाता है।


आर्टिकल पसंद आया तो शेयर करें
एंड कमेंट करें