कोशिका द्रव्य

कोशिका मे कोशिका झिल्ली के अंदर केन्द्रक के आलावा सम्पूर्ण पदार्थों को कोशिकाद्रव्य (Cytoplasm) कहते हैं। यह सभी कोशिकाओं में पाया जाता है तथा कोशिका झिल्ली के अंदर तथा केन्द्रक झिल्ली के बाहर रहता है। यह रवेदार, जेलीनुमा, अर्धतरल पदार्थ है। यह पारदर्शी एवं चिपचिपा होता है। यह कोशिका के 70% भाग की रचना करता है।

इसकी रचना जल एवं कार्बनिक तथा अकार्बनिक ठोस पदार्थों से मिलकर हुई है। प्रकाश सूक्ष्मदर्शी में सभी कोशिकांगों को स्पष्टता से नहीं देखा जा सकता है। इन रचनाओं को स्पष्ट देखने के लिए इलेक्ट्रॉन सूक्ष्मदर्शी या किसी अन्य अधिक विभेदन क्षमता वाले सूक्ष्मदर्शी की जरूरत पड़ती है।

यदि हम प्याज़ की झिल्ली की स्लाइड देखें तो हमें प्रत्येक कोशिका में एक बड़ा क्षेत्र दिखाई देगा जो कोशिका झिल्ली से घिरा हुआ होता है। इस क्षेत्र में बहुत हल्का धब्बा होता है इसे ही कोशिका द्रव्य कहा जाता हैं। कोशिका द्रव्य तथा केन्द्रक दोनों को मिलाकर जीवद्रव्य कहते हैं।